Friday, August 14, 2020
Home मुख्य खबरें बस पाॅलिटिक्स: यूपी-राजस्थान का सियासी खेल, BJP प्रवक्ता ने कहा "#दोगली कांग्रेस"

बस पाॅलिटिक्स: यूपी-राजस्थान का सियासी खेल, BJP प्रवक्ता ने कहा “#दोगली कांग्रेस”

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में बस को लेकर पाॅलिटिक्स शुरू है। राजस्थान के कोटा से उत्तर प्रदेश लाए गए छात्रों के लिए राजस्थान सरकार ने उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 36 लाख रुपये किराया मांगा है। इस किराए के बाद अब एक और बड़ा खुलासा हुआ है कि कोटा से छात्रों को लाते समय रास्ते में बस का डीजल खत्म हो गया तो आधी रात को ही यूपी सरकार से 19 लाख रुपये वसूले गए है, तब बसों को डीजल दिया गया। भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस सरकार प्रवासी श्रमिकों पर दया की बात कर रही है। उनकी दया तब कहां गई थी, जब कोटा में फंसे छात्रों को यूपी लाने के नाम पर राज्य सरकार से वसूली की गई। संबित पात्रा ने कहा कि बसों का डीजल खत्म हो गया था। फंसे छात्रों की मदद करने की बजाए गहलोत सरकार ने वसूली की।

संबित पात्रा ने किया ट्वीट

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने इस मामले में ट्वीट करके लिखा है कि “कोटा से उत्तर प्रदेश के छात्रों को वापस लाते समय UP के कुछ बसों को डीज़ल की आवश्यकता पड़ गई दया छोड़िए आधी रात को दफ़्तर खुलवा कर प्रियंका वाड्रा की राजस्थान सरकार ने यूपी सरकार से पहले 19 लाख रुपये लिए और उसके बाद बसों को रवाना होने दिया। वाह रे मदद।” इस ट्वीट के आगे संबित पात्रा ने हैश टैग दोगली कांग्रेस किया। संबित ने इस ट्वीट में वह चेक भी पोस्ट किया है जो यूपी सरकार ने राजस्थान में डीजल के लिए दिया था

कांग्रेस पर उठे सवाल

आपको बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के यूपी सरकार को 1,000 बस देने प्रस्ताव पर लगातार सियासत चल ही रही थी। इस सियासत के बीच राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने यूपी सरकार को 36.36 लाख रुपये का बिल थमा दिया है। यह बिल कोटा से यूपी लाए गए बच्चों के लिए 70 बसें उपलब्ध करवाने का है। इसको लेकर सरकार ने कांग्रेस की नीयत पर सवाल खड़ा करना शुरू कर दिया है।

यूपी लाए गए कोटा फंसे छात्र

यूपी के 12 हजार से अधिक छात्र-छात्राएं राजस्थान के कोटा में लॉकडाउन में फंस गए थे। राजस्थान के कोटा में मेडिकल-इंजिनियरिंग की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे, योगी सरकार ने इन बच्चों को सरकारी संसाधन पर घर पहुंचाने का फैसला किया था।

19.76 लाख डीजल का हो चुका है भुगतान

राजस्थान गई यूपी रोडवेज की बसों व राजस्थान सरकार की ओर से दी गई 70 बसों के डीजल के लिए यूपी सरकार 19.76 लाख रुपये का भुगतान पहले ही कर चुकी है। अब 36.36 लाख रुपये बसों के किराए का बिल राजस्थान रोडवेज की ओर से यूपी रोडवेज को भेजा गया है। भुगतान शीघ्र कराने की अपेक्षा की गई है। यूपी सरकार का कहना है कि एक ओर कांग्रेस

यूपी के प्रवासियों के लिए नि:शुल्क बसें देने का दावा करती है। दूसरी ओर उसकी ही पार्टी की सरकार यूपी लाए गए बच्चों का किराया मांग रही है। वहीं, राजस्थान सरकार के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास का कहना है कि यूपी सरकार ने हमसें इमर्जेंसी में बसें मांगी थी और उसका भुगतान करने को कहा था। हमने तत्काल अनुबंधित और निजी बसें उपलब्ध करवाईं थीं। हमें उनका भुगतान करना है, इसलिए हमने यूपी सरकार को बिल भेजा ह

बसें कम पड़ीं तो ली थी मदद

सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि हमारे पास जो प्रारंभिक सूचना वहां के प्रशासन से मिली थीं, उसके हिसाब से करीब 10 हजार छात्र-छात्राओं का पंजीकरण हुआ था। इसके हिसाब से 560 बसें हमने भेजी थीं। 17 अप्रैल से 19 अप्रैल तक यह प्रक्रिया चली। वहां पहुंचने पर करीब 2 हजार छात्र-छात्राएं और बढ़ गए। ऐसे में उनके हित को देखते हुए राजस्थान सरकार से बसों के लिए मदद मांगी गई थी। राजस्थान रोडवेज की ओर से आपातकालीन सेवा के नाम पर 70 बसें उपलब्ध करवाईं गईं। इसके कुछ बच्चों को फतेहपुर सीकरी तक और कुछ बच्चों को झांसी बॉर्डर तक लाया गया था

पढ़े: पीएम केयर्स पर ट्वीट को लेकर कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के खिलाफ FIR दर्ज

Most Popular

TV Star: सुनील ग्रोवर कर रहे हैं टीवी पर वापसी, शो का प्रोमो विडियो हुआ रिलीज

नई दिल्ली। जिन्होंने अपनी एक्टिंग से फैंस को खूब हंसाया है वो TV Star एक बार फिर टीवी में अपनी वापसी कर रहे हैं:...

Covid-19: वायरस से हुई मौत के मामले में चौथे नम्बर पर पहुंचा भारत का आंकड़ा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में पूरे विश्व को ले लिया है। वहीं कोविड-19 (Covid-19) के तेजी से बढ़ते मामलों...

LAC: भारत चीन के तनाव को कम करने की एक और कोशिश जारी, पांचवी बैठक शुरू

नई दिल्ली। भारत चीन के तनाव को कम करने की कोशिश की जा रही है इसी बीच आज भारत और चीन के...

Uttar Pradesh: कैबिनेट मंत्री का निधन, बताया जा रहा है कि कोविड-19 से थी संक्रमित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरूण का आज कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया। जानकारी के...

Recent Comments