Saturday, July 11, 2020
Home Breaking News देश Violent: भारत-चीन सीमा पर हिंसक झड़प, सेना के एक अधिकारी, दो सैनिक...

Violent: भारत-चीन सीमा पर हिंसक झड़प, सेना के एक अधिकारी, दो सैनिक शहीद

लद्दाख। लद्दाख के गलवान घाटी में भारत-चीन सैनिकों के बीच हिंसक (Violent) झड़प में तीन भारतीय सैनिक शहीद हो गए हैं। इनमें सेना ने कल रात गालवान घाटी में एक अधिकारी और दो सैनिकों को हिंसक (Violent) चेहरे के रूप में खो दिया है। यह घटना सोमवार रात को हुई है। सूत्रों के मुताबिक, चीन के भी कुछ सैनिक मारे गए हैं। हालांकि, चीन की ओर से इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। दोनों ओर से पत्थरों का इस्तेमाल हुआ है। 1975 के बाद यह पहली बार है जब भारत-चीन सीमा पर किसी सैनिक की शहादत हुई हो। भारत-चीन सीमा पर अंतिम मौत 1975 में हुई थी, जब अरुणाचल प्रदेश में LAC पर चीनी सैनिकों द्वारा एक भारतीय गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया गया था। 1967 में नाथू ला में सीमा पर दोनों पक्षों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। 

पिछले करीब डेढ़ महीने से भारत और चीन सैनिकों के बीच लद्दाख में तनातनी चल रही है। भारत की ओर से सड़क निर्माण का काम किए जाने पर आपत्ति जताते हुए बड़ी संख्या में चीनी सैनिक यहां आ गए थे। दोनों देशों में बातचीत चल रही थी। दोनों देशों के सैनिकों के पीछे हटने की खबरें आ रही थीं और माना जा रहा था कि जल्द ही यह तनाव खत्म हो जाएगा।

मीडिया की जानकारी के मुताबिक, सोमवार रात लद्दाख के गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक (Violent) झड़प हो गयी थी। इसमें भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो सैनिक शहीद हो गए। दोनों देशों के सेना के उच्च अधिकारी मौके पर बातचीत करके स्थिति को संभालने में जुटे हैं।

सेना के आधिकारिक का बयान

सेना ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि, “गैलवान घाटी में डे-एस्केलेशन प्रक्रिया के दौरान कल रात (सोमवार की रात) एक हिंसक सामना हुआ था।” उन्होंने यह भी कहा कि, “भारतीय पक्ष के लोगों की जान जाने के नुकसान में एक अधिकारी और दो सैनिक शामिल हैं।” बयान में यह भी कहा गया है कि “दोनों पक्षों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी वर्तमान में स्थिति को परिभाषित करने के लिए कार्यक्रम स्थल पर बैठक कर रहे हैं”।अधिकारियों ने बताया कि भारतीय सेना अध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने मंगलावर को पठानकोट की प्रस्तावित यात्रा रद्द कर दी है। इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि भारत के शहीद सैनिकों में एक कर्नल भी शामिल हैं। 

पिछले महीने की शुरुआत में पैंगोंग त्सो (पूर्वी लद्दाख) और नकुला (सिक्किम में) दोनों पक्षों के सैनिकों के बीच हाथापाई की खबरों के बाद से दोनों सेनाओं के बीच सीमा पर तनाव बढ़ गया है। दोनों सेनाओं ने तब से वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर बड़ी संख्या में सैनिकों और भारी सैन्य उपकरणों को जुटाया और तैनात किया। भारतीय और चीनी सैनिकों में पैंगोंग सो इलाके में पांच मई को हिंसक (Violent) झड़प हुई थी जिसके बाद से दोनों पक्ष वहां आमने-सामने थे और गतिरोध बरकरार था। यह 2017 के डोकलाम घटनाक्रम के बाद सबसे बड़ा सैन्य गतिरोध बन रहा था। छह जून को हुई थी वार्ता दोनों देशों के बीच मौजूदा तनाव को लेकर अब तक की उच्च स्तरीय वार्ता छह जून को हुई थी।

Most Popular

Encounter: कानपुर में STF की गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त, मुठभेड़ में ढेर आरोपी विकास दुबे

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) से बड़ी खबर आ रही है। यहां यूपी एसटीएफ (UP STF) के काफिले की कार...

Weather Alert: यूपी में होगी 3 दिनों तक भारी बारिश, बिजली गिरने की भी है संभावना

लखनऊ। इस मानसून के मौसम (Weather) में उत्‍तर प्रदेश में सबसे ज्यादा बरसात अगले तीन दिनों में देखने को मिल सकती है।...

PIA के 34 पायलटों का लाइसेंस किया निलंबित, फर्जी डिग्री रखने का संदेह

पाकिस्तान। पाकिस्तान के पायलटों को एक और बड़ा झटका लगा क्योंकि 32 सदस्य देशों ने उनके उड़ने पर भरने पर प्रतिबंध लगाने...

Nilgai: नीलगाय मारने व काटने वाले चार अभियुक्तों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बांदा। कमलेश चौरसिया (बबेरु)। बांदा जनपद के बबेरू कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में कुछ लोगों के द्वारा नीलगाय (Nilgai) को गोली...

Recent Comments